रोजगार प्राप्त करने के लिए अंग्रेजी बोलना और समझना जरुरी है

शिक्षा मंत्री ने होनहारों को किया सम्मानित 

बच्चों की अंग्रेजी नाटक की प्रस्तुति को शिक्षा मंत्री ने सराहा

देवलोक न्यूज .शिमला 

विश्व के अधिकांश देशों में अंग्रेजी भाषा बोली व समझी जाती है इसलिए अन्य देशों में रोजगार प्राप्त करने के लिए अंग्रेजी बोलना व समझना अत्यावश्यक है। यह बात सोमवार को शिक्षा, विधि एवं संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने लर्निंग लिंकस् फाउंडेशन के इंग्लिश ऐेक्सेस माइक्रो स्कोेलरशीप कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पोर्टमोर में कही।

इस कार्यक्रम का आयोजन शिक्षा विभाग तथा सर्व शिक्षा अभियान के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। सुरेश भारद्वाज ने बताया कि यह संगठन स्वयं सेवी संस्था है जिसकी फंडिंग यू.एस.एम्बसी द्वारा की जाती है। इस संस्था द्वारा सरकारी स्कूलों के निर्धन व प्रतिभावान छात्रों की अंग्रेजी भाषा में प्रवीण करने के लिए अतिरिक्त कक्षाएं लगाई जाती है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश के छः सरकारी स्कूलों का चयन किया गया है, जिसमें छात्रों की सुविधा के अनुसार स्कूल लगने से पूर्व अथवा छुट्टी होने के बाद छात्रों की कक्षाएं ली जाती हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों में पहली कक्षा से अंग्रेजी भाषा पढ़ाने का निर्णय लिया गया, ताकि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों को अंग्रेजी भाषा में दक्षता प्राप्त हो सके। उन्होंने शिक्षकों से छात्रों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने में अपना भरपूर सहयोग देने की अपील की।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पोर्टमोर में आयोजित आज के कार्यक्रम में लर्निंग लिंकस् फाउंडेशन के छात्रों द्वारा अंग्रेजी भाषा में लघु नाटक, कविताएं तथा गीतों की आश्चर्य जनक प्रस्तुति दी गई। उन्होंने इस संस्था के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि इस संस्था की निःस्वार्थ सेवा समाज के सभी नागरिकों को प्रेरणा देती है। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री ने इस कार्यक्रम के तहत शिक्षित किए गए प्रतिभावान छात्रों को सम्मानित भी किया।

 ये रहे उपस्थित 

इस अवसर पर यू.एस.एम्बसी की क्षेत्रीय भाषा अधिकारी मरिया सनारसकी, राज्य परियोजना निदेशक (सर्व शिक्षा अभियान) आशीष कोहली, पोर्टमोर स्कूल के प्रधानचार्य नरेन्द्र कुमार सूद, लर्निंग लिंक फाउंडेशन के पार्टनर विनय मेहरा, कंर्टी काॅर्डिनेटर रचना शर्मा तथा विभिन्न स्कूलों के अध्यापक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

2 × 2 =