इस तरह का सूर्य ग्रहण 25 वर्षों के बाद देखा गया

देवलोक न्यूज.शिमला
हिमाचल प्रदेश विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण परिषद ने रविवार को शिमला में सूर्य ग्रहण अवलोकन कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता सचिव पर्यावरण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी रजनीश ने की।
इस अवसर पर परिषद ने लोगों के लिए शिमला में राज्य सचिवालय छोटा शिमला परिसर और पदम देव परिसर, रिज मैदान में सौर फिल्टर के माध्यम से सूर्य ग्रहण देखने का प्रबन्ध किया। लोगों ने प्रत्यक्ष तौर पर सूर्य की सतह को चन्द्र द्वारा ढकते हुए देखा।
सूर्य ग्रहण प्रातः 10ः23 बजे आरम्भ होकर दोपहर 1ः48 बजे समाप्त हुआ। इसका अधिकतम प्रभाव दोपहर 12ः03 बजे देखा गया, जब चन्द्र ने सूर्य की लगभग 95 प्रतिशत सतह को ढक लिया। इस तरह का सूर्य ग्रहण हिमाचल प्रदेश में 25 वर्षों बाद देखा गया।
यह आयोजन परिषद द्वारा विज्ञान के प्रचार एवं प्रसार कार्यक्रम का हिस्सा है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य जनसाधारण को ग्रहण विज्ञान से अवगत करवाना तथा ऐसी घटनाओं से जुड़े अन्धविश्वासों को दूर करना है। इससे छात्रों, शिक्षकों और विज्ञानिकों के लिए खगोलीय घटनाओं और अंतरिक्ष विज्ञान को समझने का अवसर प्राप्त होता है।
इस अवसर पर सदस्य सचिव हिमकाॅस्ट डी.सी. राणा और संयुक्त सदस्य सचिव निशान्त ठाकुर विशेष रूप से उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

one × 4 =