कोरोना संक्रमण से बचने के लिए सेनिटाइजेशन किया

देवलोक न्यूज .शिमला

नगर निगम ने अग्निशमन विभाग के साथ मिलकर रविवार को तारादेवी से लेकर आईजीएमसी तक सैनिटाइजेशन किया। जिसमें अग्निशमन विभाग के दो वाटर टैंडर सुबह आठ बजे से एक बजे तक तारादेवी से आईजीएमसी गेट तक सोडियम हाइपो क्लोराइट को पानी के साथ मिलाकर छिड़काव किया गया।

बता दें कि इस रुट पर रविवार को सुबह छह बजे कोरोना पॉजिटिव 3 जमाती को नालागढ़ से आईजीएमसी शिमला के लिए लाया गया था। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए इस एरिया में छड़काव करके सेनिटाइजेशन किया गया। इसके बाद फायर बिग्रेड के वाहन द्वारा एजी चौक, विक्ट्री टनल, ओल्ड बसस्टैंड, गुरुद्वारा साहिब, लिफ्ट , हाईकोर्ट ,मरीना होते हुए सीएम हाउस तक छिड़काव का कार्य किया गया। वहीं दोपहर एक बजे के बाद यह वाटर टैंडर खलीनी और बीसीएस,न्यू शिमला सेक्टर चार तक सेनिटाईजेशन का कार्य किया गया। वहीं कसुंपटी बाजार होते हुए आयुर्वेदिक अस्पताल, छोटा शिमला होते हुए सचिवालय गेट तक छिड़काव का किया गया।

गौर रहे कि पिछले चार दिन से अग्निशमन विभाग के यह दो वाटर टैंडर दस जवानों के साथ शहर के विभिन्न वार्डें में जतोग,मज्याट, टूटू, बालूगंज,चौड़ा मैदान, मालरोड़, लोअरबाजार, लक्कड़बाजार संजौली एरिया का सेनिटाईजेशन कर चुके हैं।

मंडलीय अग्निशमन अधिकारी डीसी शर्मा ने बताया कि जो क्रयू सेनिटाईजेशन के लिए तैनात किया गया है। उन्हें पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेंट के साथ उनकी टीम कार्य कर रही है। नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने कहा केएनएच में भी सेनिटाइजेशन का कार्य किया गया। उन्होंने कहा कि जहां भी जरूरत रहेगी वहां पर इस छिड़काव को किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

11 − 1 =