नगर निगम की मासिक बैठक में पानी, कूड़े, टैक्स के बिल 30 जून तक राहत

देवलोक न्यूज .शिमला 

नगर निगम शिमला की मासिक बैठक वीरवार को बचत भवन में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की गई। वहीं नगर निगम की महापौर सत्या कौंडल की अध्यक्षता में बैठक हुई। जिसमें सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए वीडियों कांफ्रेंसिंग से पार्षद जुड़े। नगर निगम ने लॉक डॉउन और कफ्यू के दौरान सफाई कर्मचारियों और पार्षदों द्वारा किए जा रहे कामों की सराहना की गई। वहीं बैठक में फैसला लिया गया कि अभी लेबर हॉस्टल में रहने वाले मजदूरों से कोई भी किराया नहीं लिया जाएगा। इसके अलावा पानी, कूड़े और प्रॉपटी टैक्स जमा करने के लिए उपभोक्ताओं को 30 जून तक राहत दी गई हैं। इसके साथ ही इनकी दरें नहीं बढ़ेगी। इसके साथ ही महापौर सत्या कौंडल ने कहा कि सार्वजनिक पेयजल कनेक्शन पर पानी का बिल नहीं लिया जाएगा। वहीं शहर में निगम संपत्तियों के किरायेदारों से भी 30 जून तक किराया नहीं देना होगा। लॉकडाउन के बाद वह किस्तों में भुगतान कर सकेंगे। इसके अलावा पानी,कूड़े और प्रोपर्टी टैक्स माफ करने का प्रस्ताव भी सरकार को भेजा गया हैं। मासिक बैठक के दौरान नगर निगम ने लॉकडाउन के दौरान कार्य करने वाले सफाई कर्मचारियों के वेतन में दस फीसदी वृद्धि की जाएगी। इसके साथ ही सेवानिवृत् होने वाले निगम कर्मियों को एक साल का सेवाविस्तार दिया जाएगा। इस अवसर पर हाउस में उपमहापौर शैलेंद्र चौहान आयुक्त पकंज राय और संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज  मौजूद रहे । वहीं 21 पार्षदों सहित तीन मनोनित पार्षद भी अपने मोबाइल के जरिए वीडियो कांफ्रेसिंग से हाउस से जुड़े। यह हाउस 45 मिनट तक चला। वहीं आयुक्त पंकज राय ने एमसी द्वारा कोरोना वायरस संक्र्रमण को लेकर किए जा रहे कार्यो और जारी दिशा निर्देशों की विस्तृत जानकारी दी। इसके  साथ ही द्वारा उक्त प्रस्ताव पेश किए गए हैजिस पर वीडियो कांफ्रेसिंग से जुड़े पार्षदों ने चर्चा की ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

two × 3 =