मासिक सत्संग में पांच पीपल पूजा चूरी के बारे में बताया

शिव भोले और हनुमान,बाबा बालकनाथ के भजनों की प्रस्तुतियां रही आकर्षण का केंद्र 

देवलोक न्यूज .शिमला

डेरा बाबा रुद्रानंद सेवक मंडल शिमला की ओर से मासिक सत्संग व संकीर्तन का आयोजन किया गया। जिसमें शिमला सहित आस पास एरिया से आए काफी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। इस मौके पर सावन मास के भजन शिव भोले को समर्पित प्रस्तुतियां दी गई। वहीं कृष्ण भजन ,बाबा बालक नाथ भजन सहित हनुमान चालीसा की प्रस्तुतियां भी आकर्षण का केंद्र रही।

वहीं सत्संग में महासचिव अरविंद शर्मा ने गुरु की महिमा पर श्रद्धालुओं को विस्तार से जानकारी दी। गुरु का महत्व और गुरु के लक्ष्य के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि सभी मनुष्यों को गुरु की शिक्षाओं पर चलना चाहिए।   उन्होंने बताया कि  डेरा बाबा श्री रुद्रानंद आश्रम में पांच पीपल एक ही स्थान पर एकाकार रुप में लगभग 400 वर्षों से विद्यमान हैं जिन्हें बाबा जी के बोध वृक्ष के रुप में माना जाता हैं।

इनकी विशेषता यह है कि सांप से दंशित व्यक्ति सांस शेष रहने पर आश्रम की परिधि में यदि पहुंच जाए ,उसको तुरंत पीपल की स्थली पर लेटा देते हैं। बाबा जी के धूने की विभूति का प्रयोग करवाने के बाद वह व्यक्ति स्वयं स्वस्थ होकर स्वंय चलकर जाता हैं।

इसके साथ ही सनातन धर्म और गीता के प्रवचनों के अंश भी बताए। महाराज जी के आश्रम में किस तरह से समाजिक सेवा के लिए योगदान के बारे में भी बताया गया। इसके साथ ही 16 जुलाई को महाराज के आश्रम में पीपल चुरी की विशाल पूजा का प्रसाद सभी श्रद्धालुओं को वितरित किया गया।

यह रहे मौजूद

इस मौके पर महाराज जी के आश्रम ऊना से राम कुमार और सुभाष शर्मा विशेष रुप से उपस्थित रहे। इस मौके पर अरविंद शर्मा ,राकेश पराशर,सुनील शर्मा, ठियोग से राकेश धीमान,विनोद सामा, राजकुमार मनन,यशपाल, बिंद्र शर्मा, इंद्र,वीरेंद्र,दिनेश लटठ,राम स्वरूप,ज्ञान, मनोहर, सुदेश, गोपाल, विनोद, मनोरमा, मनीषा,सुनीता,कमलेश, कविता,कुसुम, विमला,अंजु,सरोज, बबीता, तृप्ता, मंजु,  अंजना,सुषमा,रेखा लटठ, उषा, शशि,सहित अन्य ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

eighteen + four =